कृपया स्माइली का प्रयोग न करें

दैनिक आयोजनों की पोस्ट के लिए आपको 7 दिन मिलते हैं यानी जब तक उस दिन के लिए अगला प्रोग्राम न दे दिया तब तक। इस तरह आप प्रतिदिन हर प्रोग्राम की रचना पोस्ट कर सकते हैं



वृहस्पतिवार - दी गई बह्र पर ग़ज़ल

All Discussions (57)

Sort by

गज़ल

ग़ज़ल

कैसे तोड़ दें रिश्ता हम तेरे ख़्यालों से।
आरजु़एं लिपटी है मकडि़यों के जालों से।।

 

जिस्म ओ जाँ के कर्बल की हर फ़रात प्यासी है।
तिश्नगी टपकती है बर्फ़ बर्फ बालों से।।

 

हर तरफ अंधेरों का ऐसा राज क़ायम…

Read more…
2 Replies · Reply by Dr.meena naqvi Oct 4

किसी रोज दिल का कहा मान लें तो, तुम्हीं भेज दोगे मुझे काला पानी !! तुम्हारा कहा भी करेंगे बशर्ते, ज़माना करे इश़्क की हक़बयानी !! माधुरी द्विवेदी "मधू" गोरखपुर, उत्तर प्रदेश """""""""""""""""""""""

 

किसी रोज दिल का कहा मान लें तो,
तुम्हीं भेज दोगे मुझे काला पानी !!

तुम्हारा कहा भी करेंगे बशर्ते,
ज़माना करे इश़्क की हक़बयानी !!

माधुरी द्विवेदी "मधू"
गोरखपुर, उत्तर प्रदेश
""""""""""""""""""""""""""""

Read more…
0 Replies

thursday ka pgm

मेरी उपस्थिति..ग़जल

उजाले जो इठला के गाने लगे।
अंधेरे भी घबरा के जाने लगे।।

जो नक़्श ए क़दम ढूँढते थे मेरा।
मुझे रास्ता वो दिखाने लगे।।

सितारों से करनी पडी़ दोस्ती।
मुझे रतजगे जब सताने लगे।।

अभी तो कोई बात…

Read more…
2 Replies · Reply by Dr.meena naqvi Sep 26

ग़ज़ल - आशुतोष तिवारी

221 2122 221 2122

एक बार मर के देखा, सचमुच ही मर गए थे
उस दिन के बाद तौबा, मरने से कर गए थे

जाने ये क्यों कहा तुम लड़ना हमारी ख़ातिर
माफ़ी हो बेख़ुदी में हद से गुज़र गए थे

सिग्नल पे गाड़ियों…

Read more…
0 Replies · Reply by SD TIWARI Aug 15

ग़ज़ल

गज़ल

एक चाँद कभी शब भर , जब तारों पे हँसता है।
मंज़र मेरे माजी़ का , अन्ध्यारों पे हँसता है।

 

वो शख़्स न जानेगा , उल्फ़त के सलीके़ को।
भड़का के जो शोलों को , अंगारों पे हँसता…

Read more…
0 Replies

ग़ज़ल

ग़ज़ल

माथे पे सजाया जब , हम ने मह-ए-कामिल को।
तारीकी ने ढक डाला, हर तारे की झिलमिल को।।


ता उम्र सफ़र करना, किस्मत में रहा उनकी।
जो ढूँढते फिरते थे , हर राह में मंजिल को।।…


Read more…
7 Replies · Reply by Reshma zaidi Aug 15

प्रयागराज - लखनऊ - कानपुर - नोएडा - नई दिल्ली - चंदौसी - मेरठ - साँईखेड़ा - इंदौर - भोपाल - जयपुर - आगरा