कृपया स्माइली का प्रयोग न करें

दैनिक आयोजनों की पोस्ट के लिए आपको 7 दिन मिलते हैं यानी जब तक उस दिन के लिए अगला प्रोग्राम न दे दिया तब तक। इस तरह आप प्रतिदिन हर प्रोग्राम की रचना पोस्ट कर सकते हैं



Vineet Aashna replied to Vineet Aashna's discussion हम इश्क़ का अभी तो हवन सीख रहे हैं

Bahut Bahut shukriya aapka bhayi ji "
5 hours ago
Dr.meena naqvi replied to SD TIWARI's discussion क़ाफ़िया 15 अक्टूबर से 21 अक्टूबर तक के लिए
"waaah"
6 hours ago
Dr.meena naqvi replied to SD TIWARI's discussion क़ाफ़िया 15 अक्टूबर से 21 अक्टूबर तक के लिए
"वाह वाह।"
6 hours ago
Dr.meena naqvi replied to SD TIWARI's discussion क़ाफ़िया 15 अक्टूबर से 21 अक्टूबर तक के लिए
"ग़ज़ल
हुनर पर भी हमारे ऐब की शमशीर चलती है।हुकूमत उसकी लगता है कि अालमगीर चलती है।।
 
सुकूँ मिलता ह…"
6 hours ago
SD TIWARI replied to SD TIWARI's discussion क़ाफ़िया 15 अक्टूबर से 21 अक्टूबर तक के लिए

 
अगर मंज़ूर कर लो तुम हमारी हीर हो जाना करें मंज़ूर हम दीवार पर तस्वीर हो जाना
तुम्हें अच्छी नहीं…"
11 hours ago
Sangharssh replied to SD TIWARI's discussion क़ाफ़िया 15 अक्टूबर से 21 अक्टूबर तक के लिए
"पूरी कोशिश रहेगी कुछ अशआर लिखने की! वक्त मिल गया है इस बार थोड़ा!"
13 hours ago
shahab uddin shah replied to SD TIWARI's discussion क़ाफ़िया 15 अक्टूबर से 21 अक्टूबर तक के लिए
"दिल से नहीं निकलती तस्वीर क्या करें दिल के बुता में मस्जिद तामीर क्या करें
देखा है हमने तुमसे मिलते…"
17 hours ago
Chandni pandey replied to SD TIWARI's discussion क़ाफ़िया 15 अक्टूबर से 21 अक्टूबर तक के लिए
"Sure"
20 hours ago
shri datt sharma muztar Bisauliv replied to Vineet Aashna's discussion हम इश्क़ का अभी तो हवन सीख रहे हैं
"Bahut khoob waah waah"
21 hours ago
shri datt sharma muztar Bisauliv replied to SD TIWARI's discussion क़ाफ़िया 15 अक्टूबर से 21 अक्टूबर तक के लिए
"Zarur.kishish karenge"
21 hours ago
SD TIWARI posted a discussion
 
दिए गए काफ़िये पर अशआर या पूरी ग़ज़ल नीचे रिप्लाई बॉक्स में पोस्ट करें।
गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दें।…
21 hours ago
Chandni pandey is now friends with Sukhanvar International and अमित 'अहद'
yesterday
Mrs. RAJESH KUMARI replied to Mrs. RAJESH KUMARI's discussion सोमवार की ग़ज़ल
"जी बहुत बहुत शुक्रिया "
yesterday
Mrs. RAJESH KUMARI replied to Mrs. RAJESH KUMARI's discussion सोमवार की ग़ज़ल
"जी बहुत बहुत शुक्रिया "
yesterday
Vineet Aashna posted a discussion
  धोका फ़रेब दोगलापन सीख रहे हैं हम  शहरियत के चाल चलन सीख रहे हैं  ग़ज़लों का हम जो यार ये फ़न सीख…
yesterday
Vineet Aashna replied to Mrs. RAJESH KUMARI's discussion सोमवार की ग़ज़ल
"WaaaaaaH 
khoob radeef hai "
yesterday
SD TIWARI replied to BHARAT DEEP's discussion ग़ज़ल
"लाजवाब ग़ज़ल हुई भरत भाई"
yesterday
SD TIWARI replied to BHARAT DEEP's discussion ग़ज़ल
"गर्मी है जज़्बात नहीं है इस मिसरे पर ध्यान दें भरत भाई। जज़्बात बहुवचन है।

गर्मी है जज़्बात नहीं है…"
yesterday
Vineet Aashna replied to BHARAT DEEP's discussion ग़ज़ल
"WAaaaaaah. Bharat bhayi 
उधर दिल का हर इक ज़र्रा  ... क्या कहने भाई"
yesterday
BHARAT DEEP posted a discussion
फ़ैलुन*422 22 22 22तू  जो   मेरे  साथ  नहीं  हैबेहतर  कोई  बात  नहीं  हैसूख चुकी हैं बोझिल आँखेंअब …
yesterday
More…

अगला कार्यक्रम

प्रयागराज - लखनऊ - कानपुर - नोएडा - नई दिल्ली - चंदौसी - मेरठ - साँईखेड़ा - इंदौर - भोपाल - जयपुर - आगरा